Tren&dजानिए सावन कब है 2021 में

जानिए सावन कब है 2021 में

सावन का महीना 2021 में 6 जुलाई से शुरू हो रहा है और 6 अगस्त तक चलेगा। यह महीना हिन्दू कैलेंडर के आठवें माह के रूप में जाना जाता है और इस महीने की खासियत यह है कि इसमें शिवलिंग पूजा अंतर्गत भगवान शिव की उपासना की जाती है। सावन के महीने में हिन्दू धर्म में भगवान शिव की पूजा हर रोज़ की तरह ही विशेष मानी जाती है।

सावन में शिव जी की पूजा

सावन के महीने में लोग भगवान शिव की पूजा और अर्चना करते हैं। इस महीने में कांवड़ यात्रा का आयोजन भी होता है, जिसमें भगवान शिव की मूर्ति को कांवड़ लेकर यात्रा किया जाता है।

सावन के महीने का महत्व

सावन के महीने में हिन्दू धर्म में चार शुक्रवार होते हैं, जिन्हें शिवरात्रि कहा जाता है। इन चार शुक्रवारों में भक्त भगवान शिव की पूजा करते हैं और उनकी कृपा की कामना करते हैं।

सावन के अन्य महत्वपूर्ण तिथियां

  • प्रदोष व्रत: सावन के महीने में प्रदोष व्रत का विशेष महत्व होता है। इस व्रत को करने से भगवान शिव की कृपा प्राप्त होती है।
  • हरियाली तीज: सावन में हरियाली तीज का त्योहार मनाया जाता है, जिसमें भगवान शिव और पार्वती की पूजा की जाती है।
  • नाग पंचमी: सावन में नाग पंचमी का त्योहार मनाया जाता है, जिसमें नागों की पूजा की जाती है।

सावन के व्रत

सावन के महीने में लोग शिव का व्रत रखते हैं और सोमवार को भगवान शिव की पूजा करते हैं। इसके अलावा, चारमास के दौरान भी विशेष व्रत आयोजित किए जाते हैं।

सावन के महीने में क्या खास खाना चाहिए

सावन के महीने में लोग व्रत रखते हैं और साकाहारी भोजन पसंद करते हैं। कुछ लोग अन्न, दही, फल और सब्जियां खाते हैं।

सावन के महीने में शिव जी के भक्त जो काम कर सकते हैं

सावन के महीने में भगवान शिव के भक्त निम्नलिखित कार्य कर सकते हैं:
शिवलिंग पूजा
मांस खाना छोड़ना
रुद्राभिषेक करना
ओम नमः शिवाय का जप करना

सावन के महीने में अच्छे कर्म करने के फायदे

सावन के महीने में अच्छे कर्म करने के कई फायदे होते हैं, जैसे कि भगवान शिव की कृपा प्राप्ति, धर्म, दया और सच्चे मन से पूजा करने पर उनकी कृपा मिलना।

सावन के महीने में ध्यान देने योग्य बातें

सावन के महीने में लोगों को निम्नलिखित बातों पर विशेष ध्यान देना चाहिए:
भगवान शिव की पूजा
अच्छा कर्म करना
व्रत और उपवास का पालन करना

सावन के महीने में अशुभ चीजें

सावन के महीने में कुछ चीजें जो अशुभ मानी जाती हैं हैं:
सल्ला लेना
मांस खाना
क्रोध करना

सावन के महीने के फोटो

सावन के महीने में लोग भगवान शिव की मूर्तियों के साथ और सावन के त्यौहारों की तस्वीरें शेयर करते हैं।

सावन के महीने में दिन कैसे बिताएं

सावन के महीने में लोग शिवलिंग की पूजा करते हैं, भजन की रात्रि मनाते हैं और दिनभर व्रत रखते हैं।

Frequently Asked Questions (FAQs)

1. क्या सावन के महीने में नाग पंचमी क्यों मनाई जाती है?

नाग पंचमी को सावन में मनाया जाता है क्योंकि इस दिन नागदेवता की पूजा करने से उनकी कृपा मिलती है और सर्पदोष से मुक्ति मिलती है।

2. सावन में किस प्रकार की भोजन की अनुमति होती है?

सावन के महीने में साकाहारी भोजन किया जाता है और कुछ व्रत रखने पर दूध, फल, सब्जियां और अनाज की चीजें खाई जा सकती हैं।

3. क्या सावन में मांस खाना जायज है?

सावन में मांस खाना अनुचित है क्योंकि इस महीने में लोग व्रत रखते हैं जिसमें मांस का सेवन नहीं किया जाता।

4. क्या सावन के महीने में ध्यान देने योग्य संतान प्राप्ति के योग हैं?

हां, सावन के महीने में ध्यान देने योग्य बातों में संतान प्राप्ति के योग भी हैं अगर कोई चाहता है तो उसे भगवान शिव की पूजा एवं व्रत करना चाहिए।

5. क्या सावन के महीने में शिव भक्ति का फल मिलता है?

हां, सावन के महीने में शिव भक्ति करने वालों को भगवान शिव की कृपा प्राप्त होती है और उन्हें उनकी आराधना का पूरा फल मिलता है।

6. क्या सावन के महीने में कोई विशेष पूजा की जाती है?

हां, सावन के महीने में भगवान शिव की लिंग पूजा एवं रुद्राभिषेक की विशेष पूजा की जाती है।

7. क्या सावन के महीने में शिव भक्त शिवलिंग पर जल अभिषेक कर सकता है?

हां, सावन के महीने में भीक्षुक व्यक्ति अपने संग रखे वस्त्र, अगर्भ, कुम्भ एवं पुष्प आदि अथवा साफ़ पानी(धारा)द्वारा शिवलिंग पर अभिषेक कर सकता है।

8. क्या सावन के महीने में दूध का अभिषेक कर सकते हैं?

हां, सावन के महीने में भगवान शिव की पूजा के तौर पर दूध का अभिषेक किया जा सकता है। यह भगवान शिव को समर्पित किया जाता है।

9. सावन में कांवड़ यात्रा क्यों की जाती है?

सावन में कांवड़ यात्रा भगवान शिव की पूजा अंतर्गत की जाती है और इस यात्रा के दौरान भक्त भगवान को प्राप्त करने के लिए संकल्प लेते हैं।

10. सावन के महीने में दूसरों की मदद कैसे करें?

सावन के महीने में दूसरों की मदद करना अच्छा कर्म माना जाता है। आप अपने आसपास के लोगों की मदद करें और उनके साथ शेयर करें।

इस तरह, सावन के महीने में आप भगवान शिव की उपासना करके धर्मिकता को अद्भुतता से अनुष्ठान कर सकते हैं और उनकी कृपा प्राप्त कर सकते हैं। यह माहत्मय भक्तिभाव से इसे मनाने का उत्कृष्ट अवसर है।

More From UrbanEdge

How to Register for the Amrit Brikshya Andolan Movement

Are you looking to make a positive impact on...

Exploring the Success Story of Adani Power Coastal Energen

Introduction In the energy sector, Adani Power Coastal Energen Limited...

Sam Bahadur Worldwide Collection – Exploring the Global Influence of the Legendary Marshal

Introduction Sam Bahadur, also known as Sam Manekshaw, was a...

Player Stats: Golden State Warriors vs Atlanta Hawks

When it comes to analyzing player stats in a...

Exploring Jane Dipika’s Top Fashion Trends

Introduction When it comes to staying on top of the...

Remembering Sam Bahadur: A Look Into His Impact on OTT

In the realm of over-the-top (OTT) platforms, the name...

Remembering Sridevi: The Iconic Actress’s Legacy

February 24, 2018, marked a tragic day for Indian...

Fesch6 Onlyfans Leak: Is the Content Safe to View?

In recent months, there has been a buzz around...

Unveiling Brooklinlovexxx Onlyfans Leak

In recent times, the platform OnlyFans has gained significant...